Blockchain technology क्या है, यह कैसे काम करता है

 ज्यादातर लोगों ने Blockchain technology के बारे में सुन रखा है लेकिन बहुत कम लोगों को पता है कि Blockchain technology क्या है और इसे किस तरह use करते है। हम यहां आपके Blockchain से रिलेटेड सभी doubts clear करेंगे। 

Blockchain technology क्या है? 

Blockchain technology bitcoin या किसी और cryptocurrency को एक individual से दूसरे person तक पहुंचाने में मदद करता है। 

Know everything about Child Insurance 

मान लीजिए कि आप भारत में रहते हैं और आपका दोस्त जो US main रहता है उसे पैसा भेजना है तो आपको एक trusted third party की जरुरत होगी जैसे बैंक, western union या PayPal लेकिन इसमें time और charges दोनों लगते हैं। लेकिन Blockchain technology की मदद से ये पैसा आप world के किसी कोने में मिनटों में भेज सकते हैं और charges भी बहुत कम लगते हैं।

बता दें कि Blockchain 2008 main Satoshi Nakamoto ने invent किया था bitcoin की service के लिए। Bitcoin technology से पैसा हम कहीं भी भेज सकते हैं बिना बैंकिंग सेक्टर use किए। पहले तो Blockchain केवल Bitcoin के लिए invent हुआ था लेकिन बाद में बहुत सारे altcoin भी market  में  Blockchain technology पे based आए। 

Blockchain technology के फायदे 

1) Blockchain technology एक open ledger है तो जितने भी लोग एक नेटवर्क में जुड़े होते हैं उन सबको ये पता होता है कि कौन किसको और कितना payment कर रहा है और उस नेटवर्क में सभी लोग ये decide कर सकते हैं कि ये लेनदेन valid है या नहीं ।

2) आप अपने नेटवर्क में जो भी transaction करते हो वो सभी transaction  हजारों computers पे save रहता है जिससे database lost hone का डर नहीं है। 

3) Blockchain technology को हैकर्स हैक नहीं कर सकते क्योंकि उन्हें एक साथ हजारों कंप्यूटर्स को हैक करना होगा और ऐसा करना नामुमकिन है। ये चीज Blockchain technology को सबसे सुरक्षित बनाती है। 

4) Blockchain technology को use कर पैसा भेजने के लिए आपको किसी भी third-party की जरूरत नहीं। 

5) Blockchain technology transaction के लिए बहुत कम charge करती है और transaction speed बहुत तेज़ है।

Use of Blockchain Technology  

Blockchain का फर्स्ट use 2008 main हुआ था जब पहली digital currency का invent हुआ था। Bitcoin एक decentralised currency है जो किसी भी देश, संस्था या बैंक के अधीन नहीं है। 

Blockchain का use bitcoin cryptocurrency के लिए हुए पर धीरे धीरे इसका इस्तेमाल  government और public sector  में  research  में  है। जैसे कि The Public Register जिससे किसी की property हों ने का लीगल proof मिलता है , possiblity है कि The Public register का काम future में Blockchain technology करेगी क्योंकि Blockchain में  दर्ज हुआ डाटा की मान्यता भी उतनी  होगी जितनी पब्लिक register की है। 

Blockchain public property  है इसलिए इसमें कोई स्कैम या घोटाले का भी खतरा नही है। क्योंकि Blockchain एक fault tolerance है इसलिए इसमें डाटा खोने का भी कोई चांस नहीं है। जैसे कि अगर हमारे computer की हार्ड disk या RAM खराब हो जाए तो हमारा डाटा गायब हो जाता है मगर Blockchain से दुनिया में लाखों कंप्यूटर चलते हैं तो कभी 1 2 या 100 कंप्यूटर्स भी खराब हो गए तब भी ना डाटा जाएगा ना ही transaction रुकेगी।

आज केवल digital cryptocurrency के लिए ही Blockchain का use ho रहा लेकिन बता दें कि फ्यूचर में इसे बैंकिंग सेक्टर भी use करेगा क्योंकि ये बहुत सिम्पल और सुरक्षित है। 

Blockchain technology एक distributar database है जिसमें डाटा लाखों कंप्यूटर्स में save किया जाता है और यह डाटा पूर्ण रूप से गोपनीय रखा जाता है। अगर इस डाटा में किसी नए रिकॉर्ड को दर्ज कराना हो तो कुछ partners की जरूरत होती है तो कोई भी आसानी से डाटा में कुछ ग़लत enter नहीं कर सकता। 

किसी भी digital information को use करने के लिए Blockchain technology use होंगे और धीरे धीरे सभी डिपार्टमेंट्स Blockchain technology को use करना शुरू कर देंगे। 

यूनिवर्सिटी की डिग्री हो या पासपोर्ट हो सब के लिए Blockchain सुरक्षित है और इससे हैक या डुप्लीकेट बनाना बहुत मुश्किल है। 

अगर सरकार को किसी गरीब को पैसा देना हो, किसी छात्र को scholorship या किसी आपदा में लोगो को पैसा देना हो तो कैस third party की जरूरत नहीं , पैसा सीधा जरूरतमंदो के अकाउंट में पहुंच जाएगा। इससे third party द्वारा किए गए corruption भी नहीं होंगे और पैसा भी सही जगह पहुंच जाएगा। 

इसलिए हमें देश के हित के लिए Blockchain technology को अपनाना चाहिए। 

और पढ़ें – वेबसाइट को नई होस्टिंग में कैसे ट्रांसफर करें, Transfer website to new hosting

Leave a Comment